July 14, 2024 |

BREAKING NEWS

1 जून से लागू नए परिवहन नियम जानें

ड्रायविंग लायसेंस बनवाने सहित बदलेंगे कानून

Hriday Bhoomi 24

हृदयभूमि, भोपाल।

आगामी 1 जून 2024 से देश एवं प्रदेश में नया परिवहन कानून और व्यवस्था लागू होने जा रही है। इसमें ड्रायविंग लायसेंस बनवाने के नियम आसान होने के साथ यातायात नियमों को तोड़ने पर सख्त कार्रवाई करने के भी प्रावधान हैं। अभी तक ड्राइविंग लाइसेंस के लिए रीजनल RTO आफिस के चक्कर लगाना पड़ते थे। विभाग की व्यवस्था ऑनलाइन होने के बावजूद लोग दलालों के चक्कर में पड़ जाते थे। इसमें कई बार फर्जी लाइसेंस भी पकड़ा दिया जाता था। इससे कोई दुर्घटना या चालान होने पर तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अब इससे राहत मिल जाएगी। 

ड्रायविंग स्कूल से लायसेंस

1 जून से लागू हो रहे नये नियमों के अनुसार ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल में रजिस्ट्रेशन करवाने और वहां से प्रशिक्षण लेने के बाद वहीं से लाइसेंस के लिए सर्टिफिकेट मिल जाएगा, जिसके आधार पर आपका लाइसेंस आसानी से बन सकेगा।

भारत सरकार ने एक जून, 2024 से लाइसेंस संबंधी नियमों में बदलाव किया है। अब RTO जाकर बनवाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। नए परिवहन नियम (New Driving License Rules 2024) के अनुसार, अगर आप ड्राइविंग सीखने के लिए अगर किसी ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल में रजिस्ट्रेशन करवाते हैं तो वहां ट्रेनिंग लेकर एक टेस्ट देकर ड्राइविंग सर्टिफिकेट बनवा लेंगे। इस सर्टिफिकेट से आपका ड्राइविंग लाइसेंस जल्द बन जाएगा।

   -ड्रायविंग स्कूल अधिकृत हो-

हर ड्राइविंग स्कूल लाइसेंस नहीं बना सकेगा। नोटिफिकेशन के अनुसार पर उसी ड्राइविंग स्कूल को ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने के लिये अधिकृत किया जायेगा जो परिवहन विभाग द्वारा निर्धारित शर्तों को पूरा करते हैं। ऐसे में इस बात का विशेष ध्यान रखना होगा कि हम उसी ड्राइविंग स्कूल का चयन करें जो अधिकृत सूची में हों।

-ड्राइविंग लाइसेंस का कोर्स-

डीएल बनाने के लिए एक कोर्स तैयार किया गया है जिसमें थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों को शामिल किया गया है। इस कोर्स में हल्के वाहनों के लिए ट्रेनिंग 4 हफ्ते या 29 घंटे के अंदर पूरी हो जानी चाहिए। वहीं प्रैक्टिकल कोर्स में आपको अपने वाहन के साथ शहर, गांव, रिवर्सिंग और पार्किंग आदि के लिए पूरे 21 घंटे का समय मिलेगा। इसके साथ आपको 8 घंटे में थ्योरी की जानकारी दी जायेगी।

हैवी व्हीकल्स के लिए कम से कम 38 घंटों की ट्रेनिंग जरूरी है। इसमें 8 घंटे की थ्योरी क्लास और बाकी का समय प्रैक्टिकल के लिए है।

नियम तोड़ने पर क्या हैं प्रावधान –

नए परिवहन नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है और आपको परेशानी भी हो सकती है। आजकल नाबालिग बच्चे भी अक्सर डीएल के बिना वाहन चलाते हैं। ऐसे डीएल न होने और आयु कम होने पर कारावास और जुर्माना हो सकता है। मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 207 (1) में पुलिस वाहन को जब्त और सीज कर सकती है। इसके अलावा, आपको 5,000 रुपये का जुर्माना या 3 महीने तक की जेल, या दोनों से दंडित किया जा सकता है।

  –डीएल रिन्यूवल-

ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता खत्म होने पर या उसी दिन रिन्यू कराना ज़रूरी है, इसके लिए स्थानीय RTO पर संपर्क पर संपर्क करना होगा। यह  लाइसेंस जारी होने की तारीख से 20 साल तक वैलिड होता है। 40 साल की उम्र के बाद 10 साल और फिर 5 साल बाद इसे अपडेट कराना होता है। डीएल पर लिखी वैलिडी की तारीख पर समय से अपनी डीएल का नवीनीकरण कराने का ध्यान रखें।

 -नियम तोड़ने पर –

यदि ट्रेफिक नियम तोड़कर ओवर स्पीडिंग के लिए 1000 से 2000 रुपये तक का चालान काटा जा सकता है। 18 साल से कम उम्र पर गाड़ी चलाने पर 25 हजार रुपये तक का जुर्माना होगा, लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा और 25 साल तक नया लाइसेंस भी नहीं मिलेगा। इसके अलावा उस वाहन के मालिक का ड्राइविंग लाइसेंस भी कैंसिल किया जा सकता है।

  • बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर: 500 रुपये का चालान।
  • हेलमेट न पहनने पर: 100 रुपये का चालान।
  • सीट बेल्ट न पहनने पर:100 रुपये का चालान।

इसके अलावा अन्य नियमों-कानूनों का उल्लंघन करने पर जुर्माने का प्रावधान है। परिवहन विभाग की वेबसाइट पर नये प्रावधानों को पढ़कर परिवहन और ड्राइविंस लाइसेंस से जुड़े नए नियम (Driving Licence New Rules 2024) के बारे में आपको पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।


Hriday Bhoomi 24

हमारी एंड्राइड न्यूज़ एप्प डाउनलोड करें

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.