July 19, 2024 |

BREAKING NEWS

इंदौर रेल स्टेशनों के नाम बदलें, होगी सुविधा

व्यावहारिक नाम मिलने से यात्रियों को सुविधा होगी

Hriday Bhoomi 24

इंदौर। मध्यप्रदेश की सबसे बड़ी आबादी और सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले महानगर इंदौर आने के लिए रेल यात्रियों को एक मुख्य स्टेशन तथा दो सब-स्टेशन सहित तीन अलग-अलग स्टेशनों के अलग-अलग नाम होने से उन्हें टिकिट लेने और आरक्षण कराने में अक्सर समस्या होती है। इसे देखते हुए इनका नामकरण ऐसा किया जाना चाहिए जो आमजन को समझने में आसानी हो।

इस व्यावहारिक समस्या को देखते हुए इंदौर की पूर्व सांसद व पूर्व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को एक पत्र लिखकर इंदौर के तीनों रेलवे स्टेशनों की व्यावहारिक पहचान और सुविधा के लिए उपयुक्त नामकरण करने का सुझाव दिया है।

उन्होंने कहा कि इस महानगर के तीनों रेलवे-स्टेशन के नाम नई दिल्ली की तरह किया जाए ताकि यात्रियों को टिकिट बुकिंग कराने में कोई समस्या न हो।ज्ञात हो कि इंदौर के दोनों सब स्टेशनों के नाम इंदौर नाम से अलग हटकर होने से आमजन व रेल यात्रियों को समझने में काफी भ्रम होता है।

रेलमंत्री को सुझाव

श्रीमती महाजन ने केंद्रीय रेल मंत्री को लिखे पत्र में कहा कि वर्तमान समय में इंदौर से जाने और यहां आने वाली यात्री गाड़ियों के लिए  एक मुख्य स्टेशन और दो सब-स्टेशन के लिए इंदौर मुख्य स्टेशन, पार्क रोड तथा लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन नाम का उपयोग किया जाता है। यात्रियों को भी इन स्टेशनों के लिए रेल यात्रा टिकिट भी इन्हीं नामों से जारी होते हैं।

   जबकि रेल यात्री यहां आने और यहां से जाने के लिए इन्हें इंदौर के नाम से जानते हैं। ऐसे में रेलवे टिकिट का आरक्षण कराते वक्त लोगों को काफी भ्रम की स्थिति बनती है। उन्होंने कहा कि भविष्य में यात्री गाड़ियां तथा इंदौर स्टेशन के पुनः विकास के पश्चात यह स्थिति और भी विकट हो जाएगी।

    उन्होंने इंदौर के इन तीनों स्टेशनों के लिए व्यावहारिक नामकरण करने का सुझाव दिया है। श्रीमती महाजन ने इन स्टेशनों का नाम दिल्ली, दिल्ली केंट, दिल्ली सराय रोहिल्ला की तरह इंदौर के स्टेशन के नाम अहिल्याबाई नगर इंदौर, इंदौर पार्क रोड़ तथा इंदौर लक्ष्मीबाई नगर के नाम से करने का सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि इन बदलावों से रेल यात्रियों को अपने स्टेशन के नाम आरक्षण कोई भ्रम नहीं हो पाएगा।

कलेक्टर, एसपी ने किया होली पूजन

कलेक्टर आदित्य सिंह और पुलिस अधीक्षक अभिनव चौकसे ने एक अभिनव पहल करते हुए आज शुभ मुहूर्त में आईटीआई के पास होलिका दहन स्थल पर पहुंचकर पूजन किया। यहां बनाई गई होली में गोबर के कंडे होने से होली जलना पर्यावरण के लिए काफी अनुकूल रहेगा। अधिकारीद्वय ने होली पूजन के इस मौके पर सभी को शांतिपूर्वक होली खेलने की अपील कर होली पर्व की शुभकामनाएं दी।

अधिकारी मीडिया होली मिलन समारोह आज

25 मार्च सोमवारको आईटीआई हरदा के पास प्रातः 8:00 बजे से आयोजित “होली मिलन समारोह” में भी मीडिया प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। इस दौरान कलेक्टर आदित्य सिंह एवं जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।

धूम से मनेगी होली

रविवार को होली पूजन पश्चात रात्रि में शुभ मुहूर्त में विधि विधान से होलिका दहन किया गया। हरदा शहर में लगभग सौ से अधिक स्थानों पर होली जलाई गई। दूसरे दिन सोमवार को धुलेंडी मनाई जाएगी। इसके लिए लोगों ने रंग-गुलाल, रामरज की माटी से होली खेलने की तैयारी की है। वहीं कुछ लोगों ने शहर से दूर जाकर वनांचल जाकर पिकनिक मनाने की भी योजना बनाई है। इधर शहरी क्षेत्रों में शांतिपूर्ण होली दौरान लड़ाई झगड़े व अन्य अपराधों पर नियंत्रण करने पुलिस विभाग द्वारा विशेष स्थानों पर पुलिस बल की तैनाती की जाएगी ताकि अप्रिय घटनाएं न होने पाएं।

आज रहेगा ड्राय-डे

होली के दिन जिला प्रशासन ने ड्राय-डे घोषित किया है। इस दौरान शासकीय शराब ठेकों की दुकानें बंद रहेंगी।

 


Hriday Bhoomi 24

हमारी एंड्राइड न्यूज़ एप्प डाउनलोड करें

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.