July 21, 2024 |

BREAKING NEWS

फैक्ट्री ब्लास्ट परिवारों के साथ मनाई होली

कलेक्टर-एसपी पहुंचे आश्रय स्थल

Hriday Bhoomi 24

हरदा। कलेक्टर आदित्य सिंह और पुलिस अधीक्षक अभिनव चौकसे ने सोमवार को हरदा के आईटीआई कॉलेज में बैरागढ़ विस्फोट दुर्घटना के पीड़ित परिवारों के लिए बनाए गए आश्रय स्थल पहुंचकर सभी को होली पर्व की शुभकामनाएं दीं, और सभी को गुलाल लगाकर उनके साथ होली मनाई । इस दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने सभी प्रभावित परिवारों को आश्वस्त किया कि उन्हें हर संभव मदद दिलाई जाएगी। इस अवसर पर प्रभावित परिवारों के बच्चों को पिचकारियां वितरित की गई। इस अवसर पर एसडीम हरदा कुमार सानू के अलावा मुख्य नगर पालिका अधिकारी  कमलेश पाटीदार और जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास विभाग संजय त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी भी मौजूद थे।

*अवैध मदिरा के निर्माण, विक्रय, संग्रहण, परिवहन की रोकथाम हेतु कार्यवाही*

हरदा। लोकसभा निर्वाचन के मद्देनजर कलेक्टर आदित्य सिंह के निर्देशन में अवैध मदिरा के विनिर्माण, विक्रय, संग्रहण, परिवहन की रोकथाम हेतु वृत हरदा के उड़ा, पीलियाखाल , सकूर कॉलोनी एवं वृत खिरकिया के मांदला, कुचबंदिया मोहल्ला खिरकिया एवं वृत टिमरनी के ग्राम सिंगोड़ा, चंद्रखाल, रहटगांव में दबिश देकर कुल 29 लीटर हाथ भट्टी शराब, 13 पाव देशी प्लेन शराब एवं 710 किलोग्राम महुआ लहान जप्त किया गया। जिला आबकारी अधिकारी रितेश कुमार लाल ने बताया कि मुद्देमाल जप्त कर मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम 1915 की धारा 34(1)(क) एवं 34(1)(च ) के अन्तर्गत  कुल सात प्रकरण दर्ज किये गए। उक्त कार्यवाही के दौरान वृत हरदा एवं वृत टिमरनी प्रभारी आबकारी उपनिरीक्षक संग्रामसिंह गोरे, वृत खिरकिया प्रभारी आबकारी उपनिरीक्षक दीपिका वाईकर, परिवीक्षाधीन आबकारी उपनिरीक्षक पूनम मानकर,समस्त आबकारी आरक्षको का योगदान रहा। उक्त कार्यवाही जारी रहेगी

*ग्रीष्म ऋतु में पेयजल समस्या के निराकरण के लिए आवश्यक तैयारी करें*
*कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में दिए निर्देश*
हरदा 22 मार्च 2024, कलेक्टर श्री आदित्य सिंह ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री पवनसुत गुप्ता को निर्देश दिए कि ग्रीष्म ऋतु में किन-किन ग्रामों और नगरीय क्षेत्र के किन-किन वार्डों में पेयजल संकट होने की संभावना है, ऐसे स्थानों को चिन्हित करते हुए वहां की पेयजल समस्या के निराकरण के लिए कार्य योजना बनाकर कार्य करें, और अभी से तैयारी शुरू करें। बैठक में जिला पंचायत के सीईओ श्री रोहित सिसोनिया, एसडीएम टिमरनी श्री महेश बडोले व एसडीम हरदा श्री कुमार सानू भी मौजूद थे।
कलेक्टर श्री सिंह ने कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग श्री गुप्ता को निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्र में एक-एक मजरे टोले का सर्वे कराकर यह पता लगाएं कि ग्रीष्म ऋतु में कहां-कहां पेयजल संकट हो सकता है और इन मजरे टोलों में रहने वाले ग्रामीणों के लिए पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने जिला और विकास खंड स्तर पर पेयजल समस्या के निराकरण से संबंधित कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश भी दिए, और कहा कि कंट्रोल रूम में शिकायत पंजी संधारित की जाए और प्राप्त शिकायतों को उसमें दर्ज किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शिकायत का निराकरण अगले एक-दो दिन में होता रहे यह सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि निजी जल स्रोतों को भी चिन्हित कर लें ताकि जरूरत पड़ने पर उनका अधिग्रहण किया जा सके । उन्होंने कहा कि अत्यावश्यक होने पर ही पेयजल परिवहन के प्रस्ताव भेजे जाएं। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत पूर्ण हो चुकी नल जल योजनाओं को सम्बंधित पंचायतों को हैंडओवर किया जाता रहे। कलेक्टर श्री सिंह ने पेयजल संबंधी अगली बैठक में मुख्य नगर पालिका अधिकारियों और जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को भी बुलाने के लिए कहा। कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री गुप्ता ने बैठक में बताया कि जिन ग्रामों में पेयजल समस्या सामने आ रही है, वहां सिंगल फेस मोटर डालकर तथा सिंटेक्स की टंकी रखवा कर गांव की पेयजल समस्या का निराकरण किया जा रहा है। इस प्रकार जल समस्या वाले गांवों में गर्मी के मौसम दौरान पानी के इंतजाम किए जाएंगे।


Hriday Bhoomi 24

हमारी एंड्राइड न्यूज़ एप्प डाउनलोड करें

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.